वीरान हो जाती है

वीरान हो जाती है

कोई कहता है ख़ुशी से ज़िन्दगी आसान हो जाती है,

और गम से जिन्दगी वीरान हो जाती है,

लेकिन हम कहते है ए-दोस्त,

गम तो एक इम्तहान होता है जिसमे,

अपने और बेगाने की पहचान होती है…

(568)

Share This Shayari With Your Friends