तेरे बिन हमें जिंदा रहना नही आता

तुझे चाहते है बे-इन्तहाँ पर चाहना नही आता,

ये केसी मोहब्बत है की हमें कहना नही आता,

जिंदगी में आ जाओ हमारी जिंदगी बन कर,

की तेरे बिन हमें जिंदा रहना नही आता…!!!

(662)

Share This Shayari With Your Friends