zindgi

हम दिल देखते है

सब रूप देखते है,हम दिल देखते है, सब सपना देखते है,हम हकीकत देखते है, फर्क इतना है हमारे और दुसरो के बिच मैं, सब राह देखते है,और हम मंजिल देखते…Read more