shayarimafia

हर लम्हे को अमर कर दो

हर लम्हे को अमर कर दो

जिन के नूर से मिल जाए रौशनी मुझे, उन ख्वाबों को मेरी आँखों की नजर कर दो, टूट कर यूँ मिलो हमसे की अरमां ना रह जाये कोई बाकी, यूँ…Read more

दिवाली के दिन अजीब बात हो गयी

दिवाली के दिन अजीब बात हो गयी, वो बात कुछ ख़ास हो गयी, एक हसीना से मुलाकात हो गयी, मुस्कान उसकी मुझको भा गयी, जलता दिया हाथ में लिए पास…Read more

दीपक जगमगायें आपके आँगन में

दिवाली के दीपक जगमगायें आपके आँगन में, सात रंग सजे इस साल आपके आँगन में, आया है ये त्यौहार खुशियां लेकर, हर ख़ुशी सजे इस साल आपके आँगन में, रोशनी…Read more

शुभकामनायें हमारी करें स्वीकार

दिपावली का ये पावन त्यौहार, जीवन में लाये खुशियाँ अपार, लक्ष्मी जी विराजे आपके द्वार, शुभकामनायें हमारी करें स्वीकार...!!! दिवाली की हार्दिक शुभकामनायें...Read more

दिवाली एक खुशियों का त्यौहार है

दिवाली एक खुशियों का त्यौहार है, अंधेरों से उजालों की और बरकरार है, हर कोई अंधेरे को उजाला करने के लिए तैयार है, पर जो सावधानी रखे वही समझदार है,…Read more

बिन महबूब केसी ये दिवाली

बिन महबूब केसी ये दिवाली, मन उदास दिल खाली है, तन सुना, सुनी है रात काली, बिन महबूब केसी ये दिवाली, कैसे बिछाऊं राह प्यार में, किस का थामू हाथ,…Read more

त्यौहार दीपावली का

हो मुबारक ये त्यौहार आपको दीपावली का, ज़िन्दगी का हर पल मिले आपको खुशहाली का, प्यार के जुगनू जले, प्यार की हो फुलझड़िया, प्यार के फूल खिले, प्यार की हो…Read more

खुशिया हो तमाम

आँगन में दिया, खुशिया हो तमाम, मुबारक हो आपको दिवाली मेरी जान, लक्ष्मी देवी का नूर आप पर बरसे, हर कोई आपसे लोन लेने को तरसे, भगवान आपको दे इतने…Read more

मुस्कुराते हँसते दीप

मुस्कुराते हँसते दीप तुम जलाना, जीवन मैं नइ खुशियों को लाना, दुख-दर्द अपने भूल कर, सबको गले लगाना,सब पे प्यार लुटाना... 'आपको दिवाली की शुभकामनाए'Read more

दीयों की रोशनी से

दीयों की रोशनी से झिलमिलाता आँगन हो, पटाखों की गूंजो से आसमान रोशन हो, ऐसी आए झूम के ये दिवाली, हर तरफ खुशियों का मौसम हो... ....शुभ दिपावली....Read more

नई सुबह इतनी सुहानी हो जाए

नई सुबह इतनी सुहानी हो जाए, आपके दुखों की सारी बातें पुरानी हो जाएं, दे जाए इतनी खुशियां ये दिन आपको, कि ख़ुशी भी आपकी मुस्कुराहट की दीवानी हो जाएं...!!!Read more

तेरी खिलखिलाहट नही होनी चाहिए

उसके होठों के फैलाव से ज्यादा, तेरी खिलखिलाहट नही होनी चाहिए, ओढ़ ले उसकी खुशियों का लबादा, मुस्कान तेरी चूनर नही होनी चाहिए, उसकी सोंच की हदों से ज्यादा, तेरे…Read more

किस कदर चाहते थे

किस कदर चाहते थे, तुम्हे बता न सके, चले गए जब मुझे छोड़कर, हम वापस भी बुला न सके, उम्मीद थी कितनी आँखों में तुम्हारी, आँख मिलाने का हौसला जुटा…Read more

दिल न दुखे अपने स्वार्थ के लिए

स्वर्ग का सपना छोड़ दो नर्क का डर छोड़ दो , कौन जाने क्या पाप क्या पुण्य बस, किसी का दिल न दुखे अपने स्वार्थ के लिए, बाकी सब  कुदरत…Read more