desh bhakti shayari in hindi

मिट गया जब मिटने वाला

मिट गया जब मिटने वाला

मिट गया जब मिटने वाला फिर सलाम आया तो क्या, दिल की बर्वादी के बाद उनका पयाम आया तो क्या, मिट गईं जब सब उम्मीदें मिट गए जब सब ख़याल,…Read more
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है

सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है, देखना है ज़ोर कितना बाज़ु-ए-कातिल में है, करता नहीं क्यूँ दूसरा कुछ बातचीत, देखता हूँ मैं जिसे वो चुप तेरी महफ़िल में…Read more
तिरंगा हो कफ़न मेरा

तिरंगा हो कफ़न मेरा

मैं भारत बरस का हरदम अमित सम्मान करता हूँ, यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ, मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की, तिरंगा हो कफ़न…Read more
वो लोग अमर हो जाते हैं

वो लोग अमर हो जाते हैं

खुशनसीब हैं वो जो वतन पर मिट जाते हैं, मरकर भी वो लोग अमर हो जाते हैं, करता हूँ उन्हें सलाम ए वतन पे मिटने वालों, तुम्हारी हर साँस में…Read more