सोचा किसी अपने से बात करें;

सोचा किसी अपने से बात करें;

सोचा किसी अपने से बात करें;

अपने किसी ख़ास को याद करें;

किया जो फैसला जन्माष्टमी की शुभकामना देने का;

दिल ने कहा क्यों न आपसे शुरुआत करें।

(388)

Share This Shayari With Your Friends