तुम क्या जानो

तुम क्या जानो

मेरे दिल में तुम्हारे लिए कितना प्यार है तुम क्या जानो, मेरी आँखों को बस तुम्हारा ही इंतज़ार है तुम क्या जानो, लोग कहते है प्यार करोगे तो मरोगे, लेकिन…Read more
टूट जाता है आइना सूरत तेरी देखकर

टूट जाता है आइना सूरत तेरी देखकर

क्यों टूट जाता है आइना सूरत तेरी देखकर, शर्मा जाती है चांदनी नज़र तेरी देखकर, तू एक पल के लिए मुस्कुरा के तो देख इधर, तेरे चाहने वालों की भीड़…Read more
आपकी दोस्ती ने आदत लगा दी

आपकी दोस्ती ने आदत लगा दी

तारों को गिनने वाले हम ना थे, अकेले गुनगुनाने वाले हम ना थे, ये तो आपकी दोस्ती ने आदत लगा दी, वरना किसी को इतना याद करने वाले हम ना…Read more
कोई कहता है दोस्ती नशा बन जाती है

कोई कहता है दोस्ती नशा बन जाती है

कोई कहता है दोस्ती नशा बन जाती है, कोई कहता है दोस्ती सजा बन जाती है, पर दोस्ती अगर सच्चे दिल से करो तो, दोस्ती जीने की वजह बन जाती…Read more
तारों को गिनने वाले हम न थे

तारों को गिनने वाले हम न थे

तारों को गिनने वाले हम न थे, अकेले गुनगुनाने वाले हम न थे, ये तो आपकी दोस्तीं ने आदत लगा दी, वरना किसी को इतना याद करने वाले हम न…Read more
तुम्हारी याद से दिल में

तुम्हारी याद से दिल में

तुम्हारे पास आता हूं तो सासें भीग जाती हैं, मुहब्‍बत इतनी मिलती है कि आंखें भीग जाती हैं। तबस्सुम इत्र जैसा है हंसी बरसात जैसा है, वो जब भी बात…Read more
मोहब्बत के फसाने तो कई

मोहब्बत के फसाने तो कई

मोहब्बत के फसाने तो कई हैं जहाँ में, कोई रांझा कोई फरहाद कोई मजनू है जहाँ में मुझे इन लोगों में से कोई भी नहीं बनना मुझे तो है मेरे…Read more
तेरा नाम लिखा होगा इसी दिल में

तेरा नाम लिखा होगा इसी दिल में

तुम्हें पत्थर नजर आती होगी मेरे यह शीशे के दिल... कभी पास आकर देख लें तेरे नाम लिखा होगा इसी दिल में ... दूर से सभी नजर कहां आता हैं…Read more
तेरी साँसों में मेरी साँसे

तेरी साँसों में मेरी साँसे

तेरी आँखों में एक और बार मैं डूबना चाहती हूँ... तेरी साँसों में मेरी साँसे कुछ पल रुकना चाहती है... फिर ज़िन्दगी रहे ना रहे कोई गम नहीं है,........ वैसे…Read more
मत पुछ मेरे सबर की इन्तेहाँ

मत पुछ मेरे सबर की इन्तेहाँ

मत पुछ मेरे सबर की इन्तेहाँ कहाँ तक है, तू सितम करले तेरी ताक़त जहाँ तक है, बफा की उम्मीद होगी जिन्हें होगी, ये देखना है तू जालिम कहा तक…Read more
किस्मत से अपनी सबको शिकायत

किस्मत से अपनी सबको शिकायत

किस्मत से अपनी सबको शिकायत क्यों होती है, जो नहीं मिल सकती उसी से मोहब्बत क्यों होती है, कितने दर्द है रिश्तों में दिल की, फिर भी दिल को उसी…Read more
मै किस लिए रोया था

मै किस लिए रोया था

मै किस लिए रोया था दुआ करते करते, मै क्या मांगू दुआ मेरे रब से, मै क्यों बेचैन था दुआ करते करते, आखिर में तुझी को मांग लिया मैंने, फ़क़त…Read more
आँसुओं से कोई तो गहरा नाता हैं

आँसुओं से कोई तो गहरा नाता हैं

आँसुओं से कोई तो गहरा नाता हैं छोड़ जाए साथ जब हर कोई ऐ ज़रूर साथ निभाते हैं. देखते आऐं हैं हर रात के बाद दिन रात ताकते हैं कब…Read more