किस्मत दग़ा कर गयी

दिल से पूछो तो आज भी तुम मेरे ही हो,

ये ओर बात है कि किस्मत दग़ा कर गयी..

(3722)

Share This Shayari With Your Friends