हम दोस्तो मे दुनिया देखते है

हम दोस्तो मे दुनिया देखते है

लोग रूप देखते है ,हम दिल देखते है ,


लोग सपने देखते है हम हक़ीकत देखते है,


लोग दुनिया मे दोस्त देखते है,


हम दोस्तो मे दुनिया देखते है…

(585)

Share This Shayari With Your Friends