दोस्ती शायरी

कोई कहता है दोस्ती नशा बन जाती है

कोई कहता है दोस्ती नशा बन जाती है

कोई कहता है दोस्ती नशा बन जाती है, कोई कहता है दोस्ती सजा बन जाती है, पर दोस्ती अगर सच्चे दिल से करो तो, दोस्ती जीने की वजह बन जाती…Read more
शाम-ए-महेफिल

शाम-ए-महेफिल

शाम-ए-महेफिल! चलो कुछ पुराने दोस्तों के, दरवाज़े खटखटाते हैं, देखते हैं उनके पँख थक चुके है, या अभी भी फड़फड़ाते हैं, हँसते हैं खिलखिलाकर, या होंठ बंद कर मुस्कुराते हैं,…Read more