ऐसा कोई दिल-दीवाना ढूढ़

ऐसा कोई दिल-दीवाना ढूढ़

इन अजनबियों की भीड़ में अपना कोई दीवाना ढूढ़,

शमां के आगोश में समाने को बेताब परवाना ढूढ़,

इश्क की प्यास हो जिसमें,

ऐसा कोई दिल-दीवाना ढूढ़…

(639)

Share This Shayari With Your Friends